SEO क्या हैं? SEO क्यों और कैसे करें?

इस पोस्ट में आप SEO क्या हैं? (seo kya hota hai ) यह कैसे काम करता है? और इसे जानना क्यों जरुरी हैं? के बारे में जानेंगे।आज का युग इंटरनेट का युग है, पूरा World (विश्व ) Digital होता जा रहा है। जिसके कारण हर देश की Company (कंपनी ) भी डिजिटल यानि की Online होती जा रही है।

यदि उस कंपनी को लोगो के सामने आना है और अपने प्रोडक्ट सेल करना है तब Online ही वो एकमात्र जरिया है।जहाँ एक साथ लाखों-करोड़ो लोगो को अपने सामान के बारे में डील कर सकते है और बता सकते है।लेकिन एक समस्या उठता है की लाखों-करोड़ो लोगो के मन की बात वो लोग कैसे जानेगे,

 और अपने प्रोडक्ट के बारे में अच्छी जानकारी कैसे देंगे और उनसे ले पाएंगे इसी समस्या को दूर करने के लिए SEO को बनाया गया।

 ये तो एक उदाहरण था लेकिन ठीक इसी प्रक्रिया के द्वारा SEO काम करता है। और लोगो को सर्च वैल्यू को टॉप वेब पेज पर शो कराता है।

तो चलिए जानते है SEO in hindi के पूरी जानकारी वो भी डिटेल्स से। 

seo kya hai- what is seo

SEO क्या है? (What is SEO )   

SEO एक ऐसा तकनीक या प्रक्रिया है जिससे किसी भी Content जैसे ( Reading Page , Video,Web Page, any Search Quiry आदि ) को सर्च इंजन में टॉप पर लाते है।

 इसी क्रिया को Google की दुनिया में SEO कहते है। इनके सहायता से किसी भी Website/Blog के Content को Optimize कर सर्च इंजन में टॉप पर ला सकते है। 

 SEO की सहायता से सर्च इंजन में Organic Ranking Increase कर सकते है। जैसे की किसी seo kya hai , Keyword को सर्च किया जाता है उनसे Related जितने भी कंटेंट है वो सभी वेब पेज पर दिखाई देने लगते है।

seo kya hota hai
seo kya hota hai 

  लेकिन उनमे से कुछ को ही No. 1 पर दिखाया जाता है जो SEO को अच्छी तरह से यूज़ किया गया हो। 

SEO Full Form in hindi 

S - Search
E - Engine
O - Optimization 

SEO का फुल फॉर्म - Search Engine Optimization (सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन ) है। 

SEO करना क्यों जरुरी है?

अपने वेबसाइट के कंटेंट को लोगो तक पहुँचाने के लिए हम SEO करते है। SEO करने से हमारी वेबसाइट पर आर्गेनिक ट्रैफिक इंक्रीज (Organic Traffic Increse ) होती है।

 जिनसे हमारे साइट की Authority बढ़ती है। और हमारी वेबसाइट गूगल की टॉप में शो होने लगती है। अधिक ट्रैफिक आने से हमें अधिक पैसा मिलता है।

SEO कैसे करें? 

SEO करना बहुत ही आसान है लेकिन सबसे पहले आपको इनके पहलुओं को समझना बहुत जरुरी है।

 SEO पूरी तरह से Keyword Research पर निर्भर करता है यदि आप अच्छी तरह से कीवर्ड रिसर्च करते है और उन कीवर्ड को पोस्ट में अच्छे तरह से add करते है। 

 तब आपका आपक पोस्ट टॉप पर रैंक करेगा। तो चलिए जानते है SEO कैसे किया जाता है। 

  1. SEO करने के लिए सबसे पहले आप Keyword Research के बारे में जानकारियाँ प्राप्त करना होगा। 
  2. इनके बाद रिसर्च कीवर्ड को अपने पोस्ट में title में रखे ध्यान दे पोस्ट के टाइटल में एक या दो से ज्यादा कीवर्ड का यूज़ न करें। 
  3. अपने पोस्ट में फर्स्ट पैराग्राफ में एक Main कीवर्ड का यूज़ करें।
  4. ज्यादा से ज्यादा Heading(h1,h2,h3,h4) में रिलेटेड कीवर्ड का यूज़ करें।  
  5. हर 200 Word पर एक Main keyword और एक Related Keyword का यूज़ करें। 
  6. पोस्ट के अंत में एक Main कीवर्ड का यूज़  करें। 
  7. पोस्ट के सर्च डिस्क्रिप्शन और पर्मालिंक में एक main कीवर्ड का यूज़ करें।   

  Keyword क्या है? अधिक जाने - Click Here  

SEO के प्रकार-Type Of SEO 

वैसे तो seo के बहुत प्रकार  होते है लेकिन उनमे से भी मुख्य रूप से तीन प्रकार को ही ज्यादा महत्व दिया जाता है। 

seo in hindi
seo type 

  1. On-Page SEO 
  2. Off-Page SEO 
  3. Technical SEO 

अब सबके बारे में एक-एक कर जानते है.

On-Page SEO क्या है?(on page seo in hindi)

On-Page SEO एक यैसा तकनीक है जिससे हम अपने ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च पेज में टॉप पर रैंक कराने के लिए,वो सभी ऑप्टीमाइज़ की प्रक्रिया करते है जैसे seo kya hai जो हमारे ही Blog या Website से संबंध रखता है। 

आसान शब्दों में कहे तो On-Page SEO का काम हमारे ब्लॉग में होता है,यानि की अपने ब्लॉग को ठीक तरह से design करना जो SEO Friendly और पोस्ट में अच्छे तरह से Keyword का इस्तेमाल कर कंटेंट को लिखना।

पोस्ट को लिखते समय यदि हमें On-Page SEO के बारे में अच्छी तरह से जानकारी हो जाती है तब हम अपने हर पोस्ट को सर्च इंजन में टॉप पर रैंक करा सकते है। 

इनमे सबसे ज्यादा ध्यान दिया जाता है कीवर्ड रिसर्च, पोस्ट टाइटल, हेडिंग का सही इस्तेमाल, परमालिंक,मेटा डिस्क्रिप्शन, क्वालिटी कंटेंट, कीवर्ड का सही जगह प्रयोग, इमेज ऑप्टीमाइज़ , इंटरनल लिंकिंग, एक्सटर्नल लिंकिंग और बहुत सारे चीज का इस्तेमाल किया जाता है। 

तो चलिए इनके बारे में कुछ शार्ट-कट तरीका जान लेते है आखिर SEO कैसे किया जाता है। 

On -Page SEO कैसे किया जाता है? (शार्ट-कट तरीका) 

यहाँ पर कुछ ऐसे टेक्निक्स के बारे में जानेंगे जो न्यू ब्लॉगर को बहुत मदद करेगा। 

Website Speed-: किसी भी वेबसाइट या ब्लॉग की Loading time जितना फ़ास्ट होगा उतना ही उस साइट की रैंकिंग बढ़ेगी। यह SEO की दृष्टि से बहुत जरुरी है। कोई visitor ज्यादा से ज्यादा 5 से 6 सेकण्ड ही किसी site पर रहता है,

seo kya hai

यदि इसी समय के भीतर वह वेबसाइट नहीं खुला तो उसे छोड़ दूसरे साइट पर चला जाता है। जिससे हमारे ब्लॉग पर negative प्रभाव परता है। इसलिए जितना हो सके अपने ब्लॉग की स्पीड फ़ास्ट रखे। 

अपना वेबसाइट स्पीड चेक करे -   Click Here 

Website Navigation-:  अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर एक अच्छा navigation बनाये जो यूजर फ्रेंडली हो।यदि कोई भी यूजर एक पेज से दूसरे पेज पर जाना चाहे तो वह आसानी से जा सकता है। 

Title Tag-: अपने पोस्ट की टाइटल टैग को बहुत ही अच्छा बनाये यदि कोई यूजर उसे पढ़े तब उस टाइटल को जल्द से जल्द क्लिक कर आपके साइट पर आ जाये। इनसे आपके CTR भी पढ़ेगा। 

Post का URL-:  अपने पोस्ट का url (यूआरएल ) जितना हो सके छोटा और सिंपल रखें। 

Internal Link-: एक ही वेबसाइट पर एक पेज को दूसरे पेज से लिंक करना ही Internal linking कहलाता है। किसी पोस्ट को रैंक करने के लिए एक बेहतरीन तरीका है, अपने Pages को Interlinked कर उसे आसानी से रैंक कर सकते है। 

Alt Tag-: इस टैग का उपयोग सिर्फ Image या photo में किया जाता है। Alt tag का मतलब alternative tag होता है। आसान शब्दों में कहे तो alt tag फोटो या इमेज को यह बताता है की इनका उपयोग किस टाइटल के लिए किया गया है। और यह सर्च क्वेरी में कब और कहा दिखाया जायेगा। 

Content-:  कंटेंट के बारे में तो सभी को जानकारी होगा ही,यह हमारे ब्लॉग पोस्ट में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। Content को ब्लॉग पोस्ट का King माना जाता है। 

जितनी अच्छी Content होगी उतना ही हमारे ब्लॉग साइट का SEO वैल्यूएशन होगा। इसलिए कम से कम 1000 Words से लेकर 3000+ Words का कंटेंट लिखे। 

Heading-: अपने ब्लॉग पोस्ट के आर्टिकल में heading का ख़ास ध्यान रखना चाहिए क्योकि इससे SEO पर बहुत effect परता है। पोस्ट का टाइटल H1 में होता है इनके बाद आप sub Heading को h2 ,h3,h4 आदि में रख सकते है।

Off-Page SEO क्या है? और कैसे करें। 

Off-page SEO एक यैसा प्रक्रिया है जो किसी Domain की Authority बढ़ाने के लिए किसी अन्य Website या ब्लॉग पर निर्भर करता है। 

इनमे सबसे बड़ा फैक्टर होता है नंबर और backlinks की जो हमारे site को Point करता है। आसान शब्दों में कहे तो यदि हम अपने ब्लॉग का लिंक किसी दूसरे ब्लॉग ,वेबसाइट पर add कर वहा से यूजर को redirect करते है।

तो चलिए जानते है off-page seo कैसे किया जाता है?

  • Social Networking Sites (जैसे की Facebook ,whatsApp ,instragram आदि। ) पर अपने ब्लॉग का पोस्ट शेयर कर के। 
  • अधिक से अधिक backlinks बनाये। 
  • अपने ब्लॉग को Search Engine Submission करें। 
  • Forum Submission  करें। 
  • Photo Share करें। 
  • Social Bookmarking sites का प्रयोग करें। 
  • Guest post करें। 
  • Question और Answer site ज्वाइन करें। 

Local SEO क्या है?

local seo एक यैसा टेक्निक्स है जो किसी ब्लॉग या वेबसाइट को google में सबसे पहले किसी खास area में यूजर के लिए दिखाया जाता है। यह local seo का ही एक छोटा रूप है। Local SEO क्या है? अधिक जानने के लिए Click Here

Also Read 

Conclusion

आशा करता हूँ , SEO क्या हैं? और what is seo in hindi से आपको बहुत कुछ सीखने को मिला होगा। आप अपने पोस्ट को SEO की मदद से जरूर रैंक करा सकते है। क्योकि यह विधि 100% काम करता है। बस धैर्य रखे और आगे बढे। यदि यह पोस्ट आपको पसंद आया होगा तो इसे शेयर करना न भूले। 

Auther-Sunil Kumar SinghSunil, www.sunilback.com के संस्थापक और पेशेवर ब्लॉगर हैं. इन्हें लोगों को नयी-नयी जानकारी पहुँचाने में बहुत ख़ुशी मिलती है. वहीँ ये ऐसे content लिखने में पसंद करते हैं जिन्हें की लोग पसदं करें और वो उनके बहुत काम आये.
अपनी फ़ीडबैक दे

अपनी टिप्पणी लिखें

0 Comments